नव वर्ष की बधाइयाँ

देश विदेश के दोस्तों को समर्पित

हम भी जवां हैं,
तुम भी जवां हो
बच्चे हमारे,
हमको हैं प्यारे
जब चाहते हैं, वे
आओ चलें समुंदर किनारे
खेलेंगे, कूदेंगे
करेंगे मस्ती
हम भी तो देखें
नववर्ष की हस्ती
लाए यह नव रंग, नव रूप
नव मंगल, जीवन में तुम्हारे
स्वीकार करो दिल से
नव वर्ष की बधाई.

एक बार फिर से नये वर्ष की बधाइयां........

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भक्ति आंदोलन और प्रमुख कवि

विश्वविख्यात पहलवान नरसिंह यादव के साथ धोखा क्यों?

मित्र पर कविता